pati patni me pyar badhane ke tarike increase love in hindi

शादी दो लोगो का जन्म भर का रिश्ता होता है जिसमें सिर्फ प्यार की ही अपेक्षा की जाती है। साथ रहते-रहते, एक दूसरे के गुणों की तारीफ करते हुए एक समय ऐसा भी आता है, जब दोनों एक दूसरे की आलोचना करने लगते हैं। ऐसे में उन्हें अपने साथी की खूबियां भी कमियों के रूप में नजर आने लगती हैं। यह ऐसी स्तिथि है जब पति पत्नी में तकरार उत्पन्न होने लगती है क्योंकि उस समय रिश्तों में तनाव पनपना शुरू हो जाता है। जीवन साथी से प्यार बढाना हो इन बातों का हमेशा रखें ख्याल।

काम करें साथ-साथ

जब दोनों में से कोई एक अपने साथी को कमतर समझने लगे या छोटा दिखाने की कोशिश करने लगे, तो जाहिर सी बात है कि दूसरे के मन मे तनाव उपजने लगता है। दो लोग जब जीवन भर के लिए एक डोर में बँधते हैं, तो उन के बीच प्यार के रिश्तों में सांझी शक्ति एंव समझ प्रेमी जोड़ों से कहीं बेहतर होती है। अपने उसी प्यारे जीवनसाथी के लिए एक साथ मिलकर कोई काम या एक्टिविटी के लिए हफ्ते में एक बार इकठ्ठा समय अवश्य निकाले। इसमें मूवी देखना, घूमने जाना, कुकिंग, सफाई, या अन्य कोई घरेलू काम भी हो सकता है। अगर आप हमेशा ऐसे करेंगे तो आपको ये सोचना नहीं पड़ेगा की पति पत्नी में प्यार कैसे बढ़ाये (pati patni me pyar kaise badhaye)

Pre-Marital Counseling शादी के बाद की ज़िन्दगी को बना सकती है बेहतर - जानिए इसके फायदे

एक दूसरे की आलोचना न करें

'तुम्हारा हेयर स्टाइल मुझे बिल्कुल पसंद नहीं 'या 'तुम्हे मेरे लिए यह शर्ट खरीदने से पहले मुझ से पूछ लेना चाहिए था' या ' तुम्हारे दोस्तो की निठल्ली मंडली मुझे बिल्कुल पसंद नहीं' या फिर ' सहेलियों से गप्पे मारने से अच्छा है कोई काम ही कर लो ' जैसी एक-दूसरे की आलोचनायें करने से परहेज करें। एक बात का ध्यान रखें कि सलाह देने और आलोचनात्मक शब्दों में अंतर होता है। जब आवाज में आदेशात्मक स्वर आ जाता है तो वह आलोचना को ओर अधिक गम्भीर बना देता है जिससे सामने वाले को लगता है कि उसकी अपनी कोई अहमियत नहीं रही।इसीलिए पति पत्नी में प्यार बना रहे उसके लिए एक दूसरे के काम की आलोचना न करे


प्यार भरा अंदाज

अपने साथी को कोई काम करने को कहना भले ही आपका हक है परंतु यदि आप सौम्य शैली अपनाएं या ' प्लीज ' , ' जानू' या हनी जैसे शब्दों का प्रयोग कर उन में से कोई काम करने को कहें तो कोई कारण नहीं कि वह आपके काम करने से इन्कार कर पाएं। यही नहीं आपका प्यार भरा अंदाज उन्हें आपके और करीब ले जाएगा। अक्सर लोग पति पत्नी में प्यार बढ़ाने के उपाए (pati patni me pyar badhane ke upay) ढूंढ़ते रहते है पर अगर प्यार से एक दूसरे के साथ व्यवहार करें तो कुछ भी करने की जरूरत नहीं रहेगी


pati patni me pyar badhane ke tarike


जीवन पर नियंत्रण से बचें

अपने जीवन साथी को कभी भी ये बताने का प्रयास न करें कि वह किस समय क्या करे, किससे मिले या फिर दोस्तो के साथ कब बाहर जाए। इस प्रकार की बातों से उसे लगेगा कि आप उसके जीवन को अपने ढंग से नियंत्रण करने का प्रयास कर रहे हैं। इससे पति पत्नी में अनबन की समस्या पैदा हो जाती है आप से व्यक्तिगत फैसला लेने की ताकत छीन लेता है या आपके फैसले में भागीदार बनता है तो अपनी पर्सनालिटी के गौण होने के सवाल पर किसी के मन में भी तनाव उत्तपन्न हो सकता है।

नजरअंदाज न करें

यह सोच रखना बुरी बात नहीं है कि आपका साथी हमेशा सही होता है परंतु जब वह दूसरों के सामने हमेशा खुद को सही ठहराने की कोशिश करे तो इसका अर्थ है कि उसमें अपनी गलती कबूल करने की क्षमता नहीं है जो एक समस्या बन सकती है। पति पत्नी में विश्वास(pati patni me vishwas बरकरार रखने के लिए दोनों को ही एक दूसरे की इच्छाओं का ख्याल रखना चाहिए।


डिप्रेशन न हो हावी

इस बात का ध्यान रखे कि डिप्रेशन की बीमारी खतरनाक होती है। डिप्रेशन की स्तिथि आने पर व्यक्ति दुनिया को निराशाजनक नजरिए से देखने लगता है। इसलिए जरूरी है कि अपने साथी से हमेशा उसकी रूटीन के बारे में पूछते रहें खासतौर पर अपनी पत्नी से, फिर चाहे वह घर पर हो या जॉब पर जाए, ताकि उसे यह अहसास रहे कि आपको उसकी परवाह है जब कभी उस पर डिप्रेशन हावी होने लगे तो आपको वह तुरंत बता सके, जिसका निदान समय रहते किया जा सके।

भावनाओं की मिठास

पति पत्नी का सम्बध रिश्ते की ऐसी डोर है जिसमें न तो तनाव होना चाहिए और न ही कड़वाहट। दोनों के रिश्ते में आपसी समझ औऱ एक दूसरे के साथ कि ऐसी ललक होनी चाहिए, जिससे रिश्ते में मुस्कुराहट और मधुर भावनाओं की मिठास हमेशा बरकरार रह सके और पति पत्नी के बीच में प्यार हमेशा बना रहे।