fashion designer kaise bane

Fashion designer kaise bane
- क्या आपने फैशन डिज़ाइनर बनने के हमेशा सपने देखे है और चाहते है की fashion designer kaise bane तो यह पोस्ट आपके लिए Fashion Industry में career बनाने के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकती है आज के बदलते जमाने मे हर कोई एक दूसरे से बेहतर दिखना चाहता है। सबसे आगे रहने की दौड़ में युवाओं को फिटनेस और फैशन की ओर आकर्षित किया है। तरह तरह के ब्रांड के कपड़े युवाओं की पसंद बन गई है। जितनी बार भी बाजार में जाओ तो नए नए फैशन के कपडे देखने को काफी मिल जाते है और जिनके मन में fashion designer kaise bane की लालसा अधिक होती है उनके लिए तो जीवन जीने का एक मात्र उदेश्य ही फैशन बन जाता है
तेजी से व्यापक हो रही फ़ैशन इंडस्ट्री में फैशन डिजाइनिंग, फैशन कॉर्डिनेटिंग, अपैरल मार्केडीज़िंग से लेकर टीचिंग में भी करियर बनाने के मौके हैं।

फैशन डिजाइनिंग क्या है, फैशन डिज़ाइनर कैसे बने? (Fashion Designer kaise bane)

Fashion designing एक प्रकार की कला है जो लोगो की इच्छा अनुसार पहनने वाले कपड़ो को इस प्रकार आकार देना है जो लोगो को पसंद आये और उसे खरीदने से पीछे न रह सके एक Fashion Designer को कपड़े की बुनावट, कपड़े के ज्ञान, रंगों, डिज़ाइनो, सामग्री की पूरी जानकारी होती है।

जब डिज़ाइनर अपने डिज़ाइन से पूरी तरह संतुष्ट हो जाता है तो वह किसी पेशेवर पैटर्न मेकर की सलाह लेता है। फ़ैशन कलेक्शन में डिज़ाइनर हर इक सीजन में अपने उच्च और मार्किट के लिए नए विचारों और नये प्रचलनों को सामने रखते हैं।

एक Fashion designer यह सोचता है और योजना बनता है की  कपड़े के फैब्रिक, टेक्सचर, कलर कोड क्या है? और इसे कैसा डिजाईन देना है, ताकि जब ड्रेस तैयार हो तो कुछ खास हो।

एक Fashion Designer को कपड़े के बारे में पूरी जानकारी होती है। एक डिज़ाइनर का ज्यादातर समय खोज और अनुसंधान में बीतता है क्योंकि कब क्या ओर कौन सा फ़ैशन प्रचलन में आ जाए, उसकी जानकारी उसे होनी चाहिए। सही मायने में Fashion designer कपड़े का फैब्रिक, टेक्सचर, कलर कोड सहित परिधान के बारे में सोचता है, योजना बनाता है और इसे आकार देता है।

आइये पहले जान लेते हैं की फैशन इंडस्ट्री में कितने तरह के फैशन डिज़ाइनर होते हैं ओर उनके कार्य क्या है ताकि आपको सब कुछ अच्छे से पता चल सके उसके बाद हम बात करेंगे की आप फैशन इंडस्ट्री में कदम कैसे रखें।

फैशन इंडस्ट्री में जॉब्स के प्रकार (Types of jobs in fashion industry)

Fashion designer बनने के लिए आपको पहले ये पता होना जरूरी है की fashion industry में कौन कौन सी नौकरी आपको मिल सकती है और उन नौकरियों के अंतर्गत क्या क्या कार्य आते है ताकि आपको समझने में आसानी हो सके ये सभी नौकरिया fashion designing के अंतर्गत आती है तो आप ये चिंता न करे की यह फैशन डिजाइनिंग का भाग नहीं है निचे बताई गई सभी पद और उनके कार्य फैशन डिज़ाइनर के ही कार्य होते है तो आइये जानते है कौन कौन सी नौकरी इसमें मिल सकती है और उनके कार्य क्या है 

अपैरल मार्केडाइज़र (Apparel Marketizer)

अपैरल मार्केडाइज़र को मार्केटिंग की जिम्मेदारी ज्यादा होती है। उन्हें पिछले तथा वर्तमान तथ्यों, आंकड़ो का अध्ययन कर fashion trend का विश्लेषण करना होता है। यह fashion market की नई मांग को पूरा करने के लिये खरीदार, फैशन डिज़ाइनर ओर प्रोडक्शन टीम के साथ समन्वय करते हैं। अपैरल मार्केडाइज़र को फ़ैशन ट्रेंड, टेक्सचर, सामग्री, कलर, बाजार की मांग और उत्पादन प्रक्रिया का ज्ञान होना चाहिए।

विज़ुअल मार्केडाइज़र (Visual Marketizer)

यह तुलनात्मक रूप से नया क्षेत्र है, जिसमे नई सम्भावनायें आकार ले रही हैं। विज़ुअल मार्केडाइज़र का खास काम इम्प्रेसिव विण्डो डिस्प्ले (Impressive window display) तैयार करना होता है। विज़ुअल मार्केडाइज़र (visual marketizer) के लिए फ़ैशन बुटीक, शॉपिंग मॉल ओर व्यापार केंद्रों में रोजगार की अधिक सम्भावनायें हैं। इसके इलावा शॉप लोर, फ़ैशन रिटेलर, कंट्रोल सुपरवाइजर व एक्सपोर्ट मैनेजर के रूप में करियर सँवार सकते हैं।

फ़ैशन स्टाइलिस्ट (Fashion Stylist)

Fashion products की बिक्री बढ़ाने और Fashion Show के कार्यो के समन्वय की जिम्मेदारी Fashion stylist की होती है। उनके काम मे शो से जुड़ी हर चीज शामिल होती है, ताकि सभी काम शो की थीम के मुताबिक किये जा सकें। उसे बदलते ट्रेंड, मौजूद फैशन परिवेश व उद्योग के हर पहलू की जानकारी होनी चाहिए।

फ़ैशन कोऑर्डिनेटर (Fashion Coordinate)

मैनुफैक्चरिंग हॉउस, टेक्सटाइल फर्म और रिटेल स्टोर के लिए फ़ैशन परिधानों की मार्केटिंग, निरीक्षण के काम फ़ैशन कोऑर्डिनेटर (Fashion coordinate) का होता है। ये फ़ैशन ट्रेंड, फ़ैशन शो, विज्ञापन, बिक्री बढ़ाने और फैब्रिक डीलर को रंग, बटन व दूसरी फ़ैशन जरूरतों की जानकारी देने का काम करते हैं। अच्छी संवाद कुशलता सहित कला कौशल इस क्षेत्र में तरक्की को सम्भावनाओं को बढ़ा देते हैं।

फ़ैशन कंसल्टेंट (Fashion Consultant)

एक Fashion consultant से उम्मीद की जाती है कि उसे fashion trend और उसमें आने वाले बदलाव के साथ fashion designing की पूरी जानकारी हो। बाजार की मांग के मुताबिक नये प्रोडक्ट्स को डेवेलोप करने के लिए फैशन कंसल्टेंट को नये प्रयोग व नये विचार पेश करने होते हैं औऱ बदलते फैशन परिवेश की जानकारी रखनी होती है।
 
fashion designing kaise kare

फैशन डिजाइनिंग कोर्स (Fashion Designing courses)

यह एक प्रोफेशनल कोर्स है। इसके तहत अपैरल डिजाइनिंग, फैशन डिजाइनिंग, प्रोडक्शन मैनेजमेंट, क्लोथिंग टेक्नोलॉजी, टेक्सटाइल, अपैरल कंस्ट्रक्शन मेथड, कलर मिक्सिंग एंव डिज़ाइन आदि क्षेत्रों में से किसी एक का चुनाव करना होता है। जिसमे क्रिएटिविटी जरूरी है, तभी आप रंग, शेड व टेक्सचर के संयोजन से आईडिया को रेखाचित्र के जरिए अभिव्यक्त कर पायेंगे। कुछ फैशन डिजाइनिंग कोर्स निम्नलिखत हैं
  • Certificate Diploma
  • Advance Diploma In Fashion Designing
  • BE/B.tech in textile technology
  • Ba/B.sc in textile designing
  • Bachelor of design
  • Diploma in textile menufecturer

योग्यता (Eligibility)

Fashion Designer बनने के लिए उपर दिए किसी भी ग्रेजुएट कोर्स के लिए किसी भी विषय से 50 प्रतिशत अंको के साथ 12वीं पास होना अनिवार्य है।12वीं  के बाद fashion Designing Course में एडमिशन के लिए लिखित परीक्षा औऱ इंटरवियू से गुजरना पड़ता है। वहीं P.G में एडमिशन के लिए स्नातक होना जरूरी है।
Fashion Designing में डीग्री से लेकर डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा तक के कोर्स हैं अगर तीन वर्षीय डीग्री कोर्स करना चाहते है तो इसके लिए न्यूनतम योग्यता 12वीं है जबकि डिप्लोम और पीजी डिप्लोमा ग्रेजुएशन के बाद किए जा सकते है

वेतन (Fashion Designer Salary)

Fshion Designing का कोर्स कर लेने के बाद Skilled professional को शुरुआत में 20 से 25 हजार रुपए की salary प्रति माह मिल जाती है। दो से तीन साल बाद ये लोग 50 से 60 हजार रुपये तक कमा सकते हैं। इसके इलावा रेडिमेन्ट गारमेंट, जीन्स टीशर्ट, ओर अन्य परिधानों तथा हौजरी के क्षेत्र में अपना स्वतंत्र व्यवसाय शुरू करने वाले उद्यमी सलाना लाखो रुपये कमा सकते हैं।


नौकरी -Fashion Designing jobs

जिन लोगो में fashion designer kaise bane में रूचि है उन लोगों के लिए fashion designing का कोर्स कर लेने के बाद नौकरियों के काफी अवसर हैं fashion designing के क्षेत्र में आप Technologist, stylist, designer, colorist बनने से लेकर sales और marketing जैसे किसी भी क्षेत्र में अपने लिए जॉब तलाश सकते हैं
भारत में बोहत सी ऐसी संस्थाए है जो फैशन डिज़ाइनर को नौकरी देती हैं जैसे :- हैंडलूम, खादी, जूट और क्राफ्ट डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशनसं
फैशन इंडस्ट्री के इलावा होजरी व् होम फर्निशिंग एक्सपोर्ट फर्मस में भी बड़ी संख्या में नौकरी के अवसर हैं
एक कुशल फैशन डिज़ाइनर के तौर पर किसी भी डिजाईन के साथ काम करने के इलावा किस एक्सपोर्ट हाउस या रिटेल हाउस में marketing और merchandising की जॉब पा सकते हैं लड़कियां खुद का बुटिक खोल सकती हैं 

ऐसे बढ़ाएं अपनी योग्यता (Increase Eligibility)

फैशन का कोर्स करने के लिए एडमिशन से लेकर रिक्रूटमेंट में कड़ी प्रतियोगिता का सामना करना पड़ता है। लिखित परीक्षा पास कर लेने वाले उम्मीदवारों को साइकोमेट्रिक टेस्ट/ स्किल्स / टेक्निकल टेस्ट व साक्षात्कार परीक्षा से गुजरना होता है।
जिससे उम्मीदवार की शैक्षिक योग्यता, वर्क एक्सपेरिएंस के साथ साथ फैशन इंडस्ट्री की गहन समझ का आकलन किया जाता है। बहुमुखी प्रतिभा, विषय की अच्छी समझ व क्रिएटिव लोगों को वरीयता दी जाती है। तो आइए जानते है कुछ ऐसी बाते जिससे आपकी योग्यता में वृद्धि होगी।
  • लिखित परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए फैशन जगत से जुड़ी घटनाओं,लाइफ स्टाइल, फैशन ट्रेंड और फैशन इंडस्ट्री के इलावा सभी तरह की सम-सामयिक खबरों पर अपनी नजर रखें।
  • पोर्टफोलियो के साथ प्रेजेंटेशन व कम्युनिकेशन स्किल को बेहतर बनाएं।
  • इंग्लिश भाषा का अच्छा ज्ञान होना जरूरी है। इंग्लिश ग्रामर व वोकेबुलरी पर ध्यान दें।
  • लॉजिकल रीजनिंग से सम्बंधित ज्ञान बढ़ाएं इससे संबंधित प्रश्न भी पूछे जाते हैं।
  • कंप्यूटर, मैनेजमेंट, विज्ञापन औऱ फ़िल्म क्षेत्र सम्बधी अतिरिक्त योग्यताओं को भी महत्व दिया जाता है।

प्रमुख संस्थान (Main Colleges)

College name Location Website
Apparel, Made-Ups,Home Furnishing Sector Skill Council Delhi Www.sscamh.com
National Institute of Fashion Technology Delhi

Www.nift.ac.in
Pearl Academy of Fashion Delhi www.pearlacademy.com
National Institute Of Fashion Designing Chandigarh Www.nifd.net
National Institute of Design Ahmedabad www.nid.edu
National Institute Of Fashion Technology Bengaluru

www.nift.ac.in
MIT ADT University Pune

www.mituniversity.edu.in
Amity University Mumbai

www.amity.edu

ये भी पढ़ें - सोशल मीडिया का दुरूपयोग करने वालो को इतनी हो सकती है सजा।